Light Pen क्या होता है?

Light Pen क्या होता है? Hello Friends, आज के इस article में आपको Light Pen in computer, Light Pen in Hindi के बारे में जानकारी देने वाले है, यदि आप इन सवालों का जवाब हिंदी में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट में Light Pen से जुड़ी पूरी जानकारी शेयर की गई है। सभी सवालों का जवाब जानने इस से जुड़ी अन्य जानकारी प्राप्त करने और Light Pen की विशेषताएं और क्यों इसे use किया जाता है पर भी एक नजर डालेंगे पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक पढ़े:

Light Pen क्या होता है?

लाइट पेन एक पेन के समान कंप्यूटर डिवाइस है। यह एक पॉइंटिंग डिवाइस है जिसका उपयोग प्रदर्शित मेनू आइटम (display होने वाले menu) को select करने में या फिर मॉनिटर स्क्रीन पर picture बनाने के लिए किया जाता है। Light pen में एक फोटोसेल और एक छोटी ट्यूब में रखा गया एक ऑप्टिकल सिस्टम (optical system) होता है। जब लाइट पेन की नोक को मॉनिटर स्क्रीन पर ले जाया जाता है, और पेन बटन को दबाया जाता है, तब इसका फोटोसेल सेंसिंग screen location की स्थिति का पता लगाता है और सीपीयू को इस से जुड़ी सिग्नल भेजता है। लाइट पेन, CRT मॉनिटर के साथ अच्छी तरह से काम करता है क्योंकि इस तरह के मॉनिटर स्क्रीन को स्कैन करते हैं, जो एक समय में एक पिक्सेल होता है।

इसे भी पढ़ लीजिये:

IMPS Full Form – आईएमपिएस क्या है?

VPN Full Form – वीपीएन क्या है?

Modem Full Form – मॉडेम क्या है?

UPI Full Form in Hindi – यूपीआई क्या है?

लाइट पेन को touchscreen technology का predecessor माना जा सकता है और साल 1955 में इसे पहली बार मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) के व्हर्लविंड प्रोजेक्ट (Whirlwind Project) एक शीत युद्ध वैक्यूम ट्यूब सैन्य कंप्यूटर के हिस्से के रूप में बनाया गया था। पेन ने users को स्क्रीन पर अलग-अलग पिक्सेल का सटीक रूप से चयन करने और menu option के साथ उसी तरह से आकर्षित करने और बातचीत करने की अनुमति दी, जैसे उपयोगकर्ता टचस्क्रीन डिस्प्ले के साथ इंटरैक्ट करते हैं।

Uses of Light pen:

  • लाइट पेन का उपयोग आवश्यक व्यवस्था प्रदान करके इनपुट समन्वय स्थिति के रूप में किया जा सकता है।
  • यदि background color or intensity है, तो एक लाइट पेन का उपयोग लोकेटर के रूप में किया जाता है।
  • यह एक standard pick device के रूप कई ग्राफिक्स सिस्टम के साथ में उपयोग किया जाता है।
  • इसका उपयोग स्ट्रोक इनपुट डिवाइस के रूप में किया जा सकता है।
  • इसे हम वैल्यूएटर्स (valuators) के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

Conclusion:

इस blog post के लिखने का हमारा एक ही उद्देश्य था की, आप लोगों को Light Pen और इससे जुड़ी सारी महत्वपूर्ण जानकारी हमारे इस article से मिले। हम उम्मीद करते है की आपको इस article को पढ़ कर के सही से चीजों की जानकारी मिली होगी। आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और अन्य लोगों में भी शेयर कर सकते है, ताकि इसके बारे में सभी को जानकारी मिल पाए।

Scroll to Top