eSIM क्या है? – eSIM Full Form

eSIM क्या है? – eSIM Full Form Hello Friends, आज के इस article में आपको eSIM full form in hindi के बारे में जानकारी देने वाले है, यदि आप इन सवालों का जवाब हिंदी में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट में eSIM से जुड़ी पूरी जानकारी शेयर की गई है। सभी सवालों का जवाब जानने इस से जुड़ी अन्य जानकारी प्राप्त करने और ईसिम कैसे काम करता है? और क्यों इसे use किया जाता है पर भी एक नजर डालेंगे पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को अंत तक पढ़े:

eSIM Full Form in Hindi 

eSIM का Full Form “Embedded SIM” होता है। इसे हिंदी भाषा के उच्चारण में “एंबेडेड सिम” कहते है।

ईसिम(eSIM) क्या है?

eSIM जिसे हम एंबेडेड सिम कहते है यह एक प्रोग्रामेबल सिम है, इसे कभी-कभी इलेक्ट्रॉनिक सिम, सॉफ्ट सिम या वर्चुअल सिम के रूप में भी जाना जाता है। यह एक डिवाइस में integrated SIM chip का एक form है। eSIM को हटाया नहीं जा सकता है। eSIM में, सभी subscriber के डेटा डिवाइस पर ही stored होते हैं, इसलिए physical SIM card slots की कोई जरुरत नहीं होती है। eSIM को users, service provider के बिना अनुरोध किए नए सिम कार्ड को बदलने में सक्षम रहता है। इस कार्ड के बिना, आपके फ़ोन के पास कोई भी एक मान्य फ़ोन नंबर नहीं होता है, इसलिए आप किसी भी वायरलेस नेटवर्क पर कॉल करने या प्राप्त करने में सक्षम नहीं होते है।

आप eSIM की मदद से सेवाएं प्रदान करने वाले किसी भी ऑपरेटर से कनेक्ट कर सकते है। इसके अलावा, ई-सिम बिलकुल ही पारंपरिक (traditional) सिम कार्ड के तरह ही काम करता है, लेकिन इसका उपयोग करने के लिए आपको किसी भी तरह की physical सिम कार्ड की आवश्यकता नहीं होती है। यह वास्तव में डिवाइस में पहले से ही इंस्टॉल होता है और आप इसे नए ऑपरेटर के “eSIM प्रोफाइल” को इंस्टॉल करके activate कर सकते हैं। यह एक प्रकार से physical SIM card का  new evolution है। मार्किट में अब बहुत से स्मार्टफोन, टैबलेट और लैपटॉप eSIM कार्ड से लैस हैं।

इसे भी पढ़ लीजिये:

Firewall क्या है? – Firewall in Hindi

VPN Full Form – वीपीएन क्या है?

Modem Full Form – मॉडेम क्या है?

Digital Signature क्या होता है?

eSIM कैसे काम करता है?

आप ईसिम को eSIM-compatible device के साथ, आप बहुत ही आसानी से एक eSIM प्रोफ़ाइल (ऑपरेटरों/वाहकों द्वारा प्रदान की गई) स्थापित कर सकते हैं, ताकि जब आपको इसकी जरुरत पड़े , तब आप चलते-फिरते ई-सिम के डेटा प्लान को खरीद सकें। साथ ही साथ आप अपनी आवश्यकताओं के अनुसार कई ऑपरेटरों का use कर सकते हैं और एक साथ several data plans की सदस्यता ले सकते हैं। eSIM को कभी-कभी इसके तकनीकी नाम, eUICC (एंबेडेड यूनिवर्सल सर्किट कार्ड) या वर्चुअल सिम से भी जाना जाता है। सिम कार्ड हमारे contacts and SMS messages को भी स्टोर कर सकते हैं, हालांकि इन सुविधाओं का उपयोग शायद ही कभी किया जाता है क्योंकि आज के स्मार्टफोन में ही बहुत अधिक स्टोरेज स्पेस होती हैं।

Conclusion:

इस blog post के लिखने का हमारा एक ही उद्देश्य था की, आप लोगों को eSIM और इससे जुड़ी सारी महत्वपूर्ण जानकारी हमारे इस article से मिले। हम उम्मीद करते है की आपको इस article को पढ़ कर के सही से चीजों की जानकारी मिली होगी। आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और अन्य लोगों में भी शेयर कर सकते है, ताकि इसके बारे में सभी को जानकारी मिल पाए।

Scroll to Top